सर्दी जुकाम के 10 घरेलु उपाय ( Sardi Jukam ke Gharelu upay )

मौसम बदलने के साथ सर्दी-जुकाम होना आम बात हैं, परन्तु यदि सही समय पर इसका इलाज नही किया जाये तो यह कई बिमारियों का कारण बन जाता हैं। ज्यादा जुकाम होने से बुखार और सर-दर्द भी हो जाता हैं। वैसे सर्दी के दिनों में जुखाम ज्यादा होता हैं। क्योंकि ऐसे मौसम में हमारा शरीर वातावरण में हो रहे बदलाव नही झेल पता हैं। Sardi Jukam होने से हमारी नाक बंद हो जाती हैं और गले में खरास हो जाती हैं। जिससे हमें साँस लेने में भी काफी तकलीफ होती हैं। ऐसे में घरेलु उपचार हमारे स्वास्थ्य के लिए ज्यादा फायदेमंद होता हैं, क्योंकि बाजार में मिल रही दवाओं का साइड इफेक्ट हो सकता हैं। आज हम आपको सर्दी-जुकाम से बचने के सरल घरेलु उपाय और इनके कारण के बारे में बताते हैं।

जुकाम होने के कारण ( Causes of cough & cold ) :

  • वायरल इंफेक्शन या बैक्टीरिया के कारण।
  • पसीने में ज्यादा ठंडा पानी पीने से।
  • शरीर में वातावरण के अनुसार एडजेस्ट न होने से।
  • ज्यादा ठन्डे से गर्म या गर्म से ठन्डे में तुरंत जाने से।
  • बरसात में ज्यादा भीगने से या ठन्डे पानी में नहाने से।
  • प्रदूषण, धूल, मिटटी, धुवा के प्रभाव से इत्यादि कारण हो सकते हैं।

सर्दी जुकाम से बचने के घरेलु उपाय ( Sardi Jukam ka Gharelu ilaj ) :

1. अदरक : सर्दी जुकाम के लिए अदरक बहुत ही फायदेमंद दवा हैं। और यह जल्दी असर करती हैं।

  • आप दिन में दो बार अदरक की चाय बनाकर पिये, आपको तुरंत फायदा होगा। आप चाय में निम्बू का रस और शहद भी मिला सकते हैं।
  • अदरक का पाउडर गुड़ और घी में मिलाकर सुबह खाली पेट सेवन करें।
  • एक कफ पानी में अदरक का चोट टुकड़ा डालकर उबाल ले, और ठंडा होने पर दिन में दो बार पिये, तीन से चार दिन में ही आराम मिल जायेगा।
  • अदरक के रस को शहद के साथ लेने से गले की खरास में राहत मिलती हैं।
  • दिन में कभी भी अदरक का छोटा टुकड़ा चबाने से इसके रस के साथ ही गले की खरास में आराम आता हैं।

2. शहद : शहद में पोषक तत्व काफी मात्रा में होने से वायरस से लड़ने की क्षमता होती हैं।

  • दो चम्मच शहद में एक चम्मच निम्बू का रस मिलाकर सेवन करें। गले की खरास और जुकाम में जल्दी ही फायदा मिलेगा।
  • आप एक गिलाश गाजर के जूस में 2 चम्मच शहद मिलकर पिये, सर्दी जुकाम में फायदा मिलेगा।

3. लहसुन : लहसुन immune system के लिए काफी अच्छा हैं और इसमें भी वायरस से लड़ने की क्षमता होती हैं।

  • लहसुन की चार कलियों को एक कफ पानी में उबाल कर इसमें थोड़ा सा शहद मिला ले, और इसका सेवन दिन में दो बार करें।
  • आप लहसुन में एक लौंग डालकर पीस ले, और शहद के साथ इसका सेवन करें। लहसुन को अपने खाने या सब्जियों में भी इस्तेमाल करें।
  • सरसो के तेल में लहसुन की कली डालकर हल्का गर्म करके, इसकी पैर के तलवे और सीने पर हलकी मालिश करने से Sardi Jukam में फायदा होता है।

4. हल्दी : सर्दी जुकाम के लिए हल्दी एक बहुत ही अच्छी प्राकृतिक औषधि हैं।

  • रात को सोते समय एक गिलास दूध में हल्दी डालकर उबाल ले, फिर इसे हल्का गर्म पिये, आपके गले के दर्द और खरास में फायदा मिलता हैं।
  • हल्दी को शहद के साथ मिलाकर लेने से भी सर्दी जुकाम में फायदा होता है।

5. निम्बू : निम्बू में विटामिन-सी होने के साथ इसमें रोग प्रतिरोधक क्षमता भी पायी जाती हैं। निम्बू के रस में शहद और काली मिर्च मिलाकर ले सर्दी जुकाम में आराम मिलता हैं।

6.प्याज : आधी चम्मच प्याज के रस में एक चम्मच शहद मिलाकर सेवन करें, जल्दी ही सर्दी जुकाम से राहत मिलेगी।
प्याज को काटकर इसे सुघने से भी नाक खुल जाती हैं।

7. चाय : आप अदरक और तुलसी के पत्ते डाल कर चाय बनाये, इसका सेवन करने से गले के दर्द और खरास में राहत मिलती हैं। आप चाय में लौंग या काली मिर्च भी डाल सकते है।

8. गर्म दूध : रात को सोते समय गर्म दूध में काली मिर्च या शहद डाल कर पिये, आपको Sardi Jukam में तुरंत आराम मिलेगा।

  • रात को 5 बादाम भिगो दे, सुबह इसे हलके गर्म दूध में पीसकर मिला ले, इसका सेवन करें।
  • खजूर को दूध में उबाल कर, इसका सेवन करने से जुकाम में फायदा होता है।

9. गर्म पानी : हलके गर्म पानी में थोड़ा सा नमक डालकर इस पानी से गरारे करें, इससे गले की सूजन और दर्द में राहत मिलती हैं।
गर्म पानी की भाप लेने से भी जुकाम में राहत मिलती हैं। आप दिन ठंडा पानी न पीकर हल्का गर्म पानी ही पिये, जल्दी ही आराम मिलेगा।

10. अजवाइन : गुनगुने पानी के साथ अजवाइन की फाकी लेने से भी जुकाम में राहत मिलती हैं। काली मिर्च पीस कर इसमें सेंधा नमक मिलाकर गुनगुने पानी से साथ लेने से सर्दी जुकाम में राहत मिलती हैं। जायफल और दालचीनी को बराबर मात्रा में लेकर पीस ले, और दिन में दो बार इसका सेवन करें।

Sardi-Jukam से बचाव ही सबसे अच्छा इलाज हैं। आपको दिन में बार-बार हाथो को धोना चाहिए, जिससे संक्रमित वस्तुओ को छूने से हाथ में लगे कीटाणु हट जाते हैं। यदि आपके घर में किसी को जुखाम है तो उसके बर्तनों का प्रयोग नही करें। अपने खाने पीने का ध्यान रखे। ज्यादा ठंडा पानी नहीं पिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Ayurvedic Solution © 2016 Frontier Theme
Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.