Category: फलों और सब्जियों के लाभ

ककड़ी खाने के फायदे ( Kakdi khane ke fayde aur labh )

ककड़ी खाने के फायदे ( Kakdi khane ke fayde ) :

गर्मियों के समय में ककड़ी बाजार में अधिक देखि जाती हैं। यह बेल पर उगती हैं और इसकी बेल काफी लंबी फैलती हैं। ककड़ी के फूल पीले रंग के होते हैं कच्ची ककड़ी हरे रंग की और नमक के साथ खाने पर बड़ी स्वाद लगती हैं इसलिए अधिकांश घरों में ककड़ी का सेवन सलाद के रूप में किया जाता हैं। ककड़ी में लगभग 96.4 प्रतिशत पानी, 0.3 प्रतिशत प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेड, फॉस्फोरस, कैल्शियम, लौह, विटामिन पाए जाते हैं ककड़ी को आप कच्ची और छिलके बिना उतारे खाये और आप कड़ी के रस को भी पी सकते हैं। यह ज्यादा फायदेमंद है। आप ककड़ी के रस में थोड़ी चीनी मिला कर भी पी सकते हैं। आज हम ककड़ी के फायदे Kakdi khane ke fayde और ककड़ी के रस पीने से होने वाले लाभ के बारे में बात करते हैं।

kakdi khane ke fayde

ककड़ी खाने के फायदे ( Kakdi khane ke fayde aur labh ) :

  1. ककड़ी में पानी की मात्रा अधिक होने के कारण यह शरीर में जल की कमी को पूरा करती हैं और तेज गर्मी में शरीर को ठंडक देती हैं साथ ही ककड़ी के सेवन से पेट संबंधी रोग और पाचन क्रिया सही बानी रहती हैं।
  2. ककड़ी (Cucumber) में पानी और फाइबर अधिक पाया जाता हैं साथ ही कैलोरी कम होती हैं. इस कारण ककड़ी के सेवन करने से भूख कम लगती हैं और वजन को बढ़ने से रोकती हैं।
  3. ककड़ी के रस से चेहरे को दोने से चेहरे के दाग, गंदगी और चिकनाई दूर होती हैं और चेहरे पर सुंदरता आती हैं ककड़ी के रस से हाथ मुँह धोने से फटते नही हैं।
  4. ककड़ी में आयोडीन होता है इसलिए यह घेंघा रोग में लाभदायक होती हैं।
  5. ककड़ी और प्याज का रस पिलाने से शराब का नशा दूर हो जाता हैं।
  6. ककड़ी में पोटेशियम होता हैं इसलिए यह निम्न और उच्च रक्त चाप में फायदेमंद होती हैं।
  7. ककड़ी के रस को बालो में लगा ले और कुछ समय बाद पानी से धो ले इससे आपके बल मुलायम और मजबूत होते हैं साथ ही बालों की लंबाई बढ़ती हैं।
  8. ककड़ी खाने से मधुमेह या शुगर में फायदा होता हैं। ककड़ी को छिलके सहित और कच्ची खानी चाहिए साथ ही यह कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी कम करती हैं।
  9. ककड़ी और गाजर का रस मिलाकर पीने से वात रोग में फायदा होता हैं और गुर्दे की समस्या दूर होती हैं।
  10. ककड़ी के नियमित रूप से सेवन करने से रक्त विकार, पित्त, मूत्र अवरोध, दन्त रोगों में फायदा करती हैं। ककड़ी के रस में थोड़ा नींबू और जीरा मिलाकर पीने से पेशाब की जलन में फायदा होता हैं। आज हमने kakdi ke health benefits और kakdi khane ke fayde के बारे में बात की, परन्तु यद् ध्यान रहे हर चीज एक सीमा होती हैं, इसलिए ककड़ी का सेवन ज्यादा नही करे, यह नुकसान भी दे सकती हैं।

अंजीर के फायदे और गुण ( Anjeer ke fayde aur Gun )

अंजीर के फायदे और गुण ( Anjeer ke fayde aur Gun ) :

अंजीर को अंग्रेजी में फोग (Fig) कहा जाता हैं इसके कच्चे फल का रंग हरा और पके हुए फल का रंग पीला या बैंगनी होता हैं अंजीर को काटने पर यह अंदर से लाल होता हैं अंजीर गुद्देदार और खोखला फल होता हैं तजा अंजीर स्वादिष्ट, स्वास्थ्यवर्धक और मीठा फल होता हैं अंजीर को फल के रूप में और सूखा कर दोनों रूपो में उपयोग किया जाता हैं अंजीर का सूखा फल मेवे के रूप में उपयोग किया जाता हैं यह बाजार में आसानी से मिल जाता हैं अंजीर में पाए जाने वाले पोषक तत्वों में लगभग 63 प्रतिशत कार्बोहाइट्रेड, 5.5 प्रतिशत प्रोटीन, 20.8 प्रतिशत पानी, सेल्युलोज 7.3 प्रतिशत, चिकनाई, मिनरल सॉल्ट, एसिड, राख, आयरन, विटामिन, तांबा, कैल्शियम और शर्करा व खनिज लवण पाए जाते हैं इसमें विटामिन A,C और कुछ मात्रा में विटामिन B,D मिलता हैं आज हम आपको Anjeer ke fayde, Benefits of Anjeer और Anjeer khane ke labh क्या हैं इनके बारे में आज हम बात करते हैं

Anjeer ke fayde

अंजीर के फायदे ( Anjeer ke fayde ) :

  1. सूखे अंजीर को दूध में उबाल ले, फिर अंजीर को खा ले, साथ ही इस दूध को भी पी लें इससे आपकी कब्ज की समस्या दूर होगी साथ ही अंजीर को पानी में उबाल कर खाली पेट खाने से कब्ज और बवासीर दोनों ठीक हो जाते हैं
  2. अंजीर में फाइबर होने के कारन यह पेट संबंधी रोगों में फायदा करता हैं अंजीर पाचन तंत्र को मजबूत करता हैं
  3. अंजीर में आयरन और कैल्शियम अधिक मात्रा में पाया जाता हैं इसलिए यह रक्त विकार और एनीमिया रोगों में फायदेमंद हैं साथ ही यह आपके वजन को भी कंट्रोल करता हैं सूखे अंजीर में antioxidant होने के कारण यह दिल के लिए लाभकारी होता हैं
  4. अंजीर में कैल्शियम होता हैं इसलिए अंजीर खाने से शरीर की हड्डियां मजबूत होती हैं
  5. अंजीर को पानी में उबालकर हल्का गर्म पानी पीने से सर्दी व जुखाम में फायदा होता हैं
  6. अंजीर में पौटेशियम पाया जाता हैं जो ब्लड शुगर को कंट्रोल करता हैं
  7. पानी में अंजीर के पेड़ की छाल की भस्म बनाकर सर पर लेप करने से सिर दर्द ठीक हो जाता हैं
  8. अस्थमा में अंजीर के पत्तो का सेवन करने से फायदा होता हैं
  9. अंजीर को बादाम और पिस्ते के साथ खाने से मानसिक शक्ति और शारीरिक शक्ति Health benefits में बहुत फायदा होता हैं इसमें मौजूद पोषक तत्व शरीर को मजबूत और स्वस्थ्य बनाते हैं
  10. गर्भवती महिलावो के लिए भी अंजीर फायदेमंद होता हैं इसके अतिरिक्त अंजीर के नियमित रूप से सेवन करने से पीलिया, यकृत रोग, गठिया, जख्म, गांठ और फोड़े की सूजन को सही करता हैं

अंगूर के फायदे ( Grapes ya Angur ke fayde )

अंगूर के फायदे ( Grapes ya Angur ke fayde ) :

अंगूर का खट्टा-मीठा स्वाद सभी को पसंद है। अंगूर स्वाद, पोष्टिक, बल, शक्ति, सौन्दर्य और खून को बढ़ाने वाला होता हैं। ताजा अंगूर का रस अत्यधिक लाभकारी और सुपाच्य होता हैं। अंगूर में ग्लूकोज या शर्करा पर्याप्त मात्रा में होती हैं। अंगूर एक खूबसूरत फल है अंगूर को धो कर बिना काटे आसानी से खा सकते हैं। अंगूर में लगभग 82 प्रतिशत पानी, 2.8 प्रतिशत रेशे, 0.6 प्रतिशत प्रोटीन, विटामिन A,B,C और कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन पाया जाता हैं। अंगूर को सूखा कर किशमिश, मुनक्का बनता हैं जिनका उपयोग हलवा, खीर, लड्डू और मिठाइयों में किया जाता हैं। आयुर्वेद के अनुसार अंगूर बहुत सी औषधियों में काम लिया जाता हैं। आज हम अंगूर के फायदे Angur ke fayde और अंगूर के लाभ Angoor fruit juice ke labh या गुण के बारे में बात करते हैं।

Angur ke fayde

अंगूर के फायदे : Angur ke fayde, Benefits of grapes, Angoor khane ke fayde.

  1. अंगूर में आयरन पाया जाता हैं अंगूर खाने से शरीर में खून की कमी दूर होती हैं। नियमित रूप से अंगूर खाकर या इसके Angur ke juice के सेवन से शरीर में खून की मात्रा में में वर्द्धि होती हैं इसलिए एनीमिया रोग के लिए अंगूर सबसे अच्छी दवा हैं।
  2. अंगूर के नियमित सेवन से आपके चेहरे की सुंदरता को बढ़ाता हैं। इसके सेवन से चेहरे की फुंसियां, मुहासे साफ हो जाते है और चेहरे पर चमक या लालिमा आ जाती हैं अंगूर का रस त्वचा के लिए भी लाभदायक हैं।
  3. गर्भवती महिला को कुछ खट्टा-मीठा खाने का मन करता हैं तो आप उसे अंगूर या अंगूर का रस दे सकते हैं। यह दोनों के लिए लाभकारी होता हैं।
  4. अंगूर भूख बढ़ाता है और प्यास को शांत करता हैं गर्मियों में प्यास को बुझाता है और शरीर में पानी की कमी को दूर करता हैं साथ ही लार ग्रंथियों के लिए भी लाभकारी हैं।
  5. अंगूर बालो को झड़ने से रोकता हैं। अंगूर को मसल कर बालो में लगा ले या फिर अंगूर के बीज का तेल बालो में लगाने से बाल मजबूत और डेंड्रफ दूर होता हैं।
  6. अंगूर का नियमित रूप से सेवन करने से याददाश्त बढ़ती हैं। यह बच्चो और बड़ो दोनों के लिए लाभकारी हैं। यह memory power और भूलने की आदत को सही करता है साथ ही यह माइग्रेन की समस्या को भी ठीक करता हैं।
  7. अंगूर गठिया और मधुमेह दोनों रोगों में लाभदायक हैं अंगूर के नियमित सेवन से दोनों रोगों में आराम मिलता हैं।
    अंगूर का रस आँखों में लगाने से आँखों की रौशनी बढ़ती है अंगूर का रस नाक में डालने से नकसीर में लाभ होता हैं।
  8. अंगूर Angoor के नियमित सेवन से अस्थमा, खांसी में राहत, वजन नियंत्रित, कब्ज, धुप से सुरक्षा, जुखाम, रक्त शोधक, आँखों की रोशनी या रतौन्धी, अतिसार, क्षय रोग और खांसी, कमजोरी या थकान को दूर करता हैं। अंगूर के अधिकांश विटामिन या खनिज लवण इसके छिलके में होते हैं। अंगूर दमा, खांसी, टी.बी. में भी लाभदायक होता हैं ध्यान रहे की बाजार से जब आप अंगूर लाये तो उन्हें पानी में अच्छे से धो कर ही सेवन करें।

आलू खाने के फायदे ( Aalu khane ke fayde aur labh )

आलू खाने के फायदे ( Aalu khane ke fayde ) :

आलू बच्चो और बड़ो सभी को पसंद हैं, उबले हुए आलू में नमक मिला कर हम वैसे ही खा जाते हैं। आलू को लगभग हर सब्जी के साथ मिला कर बना सकते हैं। इसी कारण हर घर में आलू जरूर मिल जाता हैं। आलू में बहुत से पोष्टिक तत्व, सोडा, पोटास, विटामिन ए और डी, स्टार्च, प्रोटीन, खनिज के साथ औषधीय गुण भी होते हैं। आलू को छिलके के साथ पकाना चाहिए क्या आप जानते है की आलू खाना आपकी सेहत के लिए कितना फायदेमंद है. आलू खाने के फायदे क्या है, आलू के गुण और लाभ (Potato ke fayde /Aalu khane ke fayde) क्या है इनके बारे में आज हम आपसे बात करेगे तले हुए आलू को खाने से मोटापा बढ़ता है। लेकिन वैसे आलू मोटापा नही बढ़ाता हैं बच्चो के आलू के चिप्स बड़े पसंद होते हैं।

Aalu khane ke fayde

आलू खाने के फायदे ( Aalu khane ke fayde ) :

  1. चोट लगने पर यदि आपकी त्वचा नीली पड़ जाती है तो आप वह आलू लगाए आपको फायदा होगा, कच्चे आलू का रस लगाने से त्वचा रोग और एलर्जी में फायदा होता हैं. साथ ही झुर्रियों पर कच्चा आलू पीस कर लगाने से झुर्रिया हैट जाती हैं।
  2. आलू को सेंककर, इसे नमक और मिर्च के साथ खाने से अम्लपित्त में फायदा होता हैं।
  3. आलू में स्टार्च, पोटैशियम, विटामिन बी6 और विटामिन सी होती है जो की एंटीऑक्सीडेंट्स का काम करती है और त्वचा में निखार लाती हैं आलू चेहरे के दाग-धब्बो को हटा कर त्वचा को सुन्दर बनाता है।
  4. आलू के गुददे को दाग-धब्बो पर लगाना चाहिए इसे दही के साथ मिला कर लगाने से चेहरे से काले घेरे हैट जाते हैं। और मृत व सुखी त्वचा भी हट जाती हैं, साथ ही यह सनबर्न से सुरक्षा प्रदान करता है।
  5. आलू और खीरे का पेस्ट बना कर इसे आँखों के निचे लगाना चाहिए, इससे आँखों की सूजन ठीक हो जाती हैं।
  6. आलू का ज्यूस सुबह नास्ते में पिए, यह आपके बढ़ते हुए वजन को काम कर देता हैं गठिया के रोगी के लिए भी आलू का ज्यूस काफी लाभदायक होता है।
  7. आलू का ज्यूस मधुमेह को रोकने में सहायक हैं. आलू का ज्यूस काफी फायदेमंद होता है यह आपको एसिडिटी की समस्या में राहत प्रदान करता हैं।
  8. आलू से पेट की कब्ज दूर होती हैं आलू का रस पिने और साथ में खूब पानी पिने से पथरी की समस्या दूर हो जाती हैं।

आलू के नुकसान : आलू का ज्यादा सेवन करने से यह नुकसान करता हैं, बड़ी उम्र के लोगो को भी यदि यह नुकसान करे तो नही खाये, आलू के हरे भाग को खाने से यह नुकसान देता हैं।

अखरोट के फायदे और लाभ ( Akhrot ke fayde aur labh )

अखरोट के फायदे और लाभ ( Akhrot ke fayde aur labh ) :

अखरोट को अंग्रेजी में Walnut कहते हैं। अखरोट का नाम सुनते ही मुँह से पानी आने लगता हैं। यह ज्यादातर कश्मीर,हिमाचल व मणिपुर में पाया जाता हैं। अखरोट के पेड़ की ऊँचाई लगभग 60 से 100 फुट तक होती हैं। अखरोट शरीर और दिमाग के लिए बहुत ही फायदेमंद होता हैं। आज हम अखरोट के फायदे और इससे होने वाले लाभ ( Akhrot ke fayde aur labh ) के बारे में बात करेगें।

Akhrot ke fayde aur Labh

अखरोट के फायदे ( Akhrot ke fayde ) :

  1. अखरोट का नियमित रूप से सेवन करने से यह वजन घटने में सहायक हैं और शरीर को आराम भी मिलता है। जिससे नींद अच्छी आती हैं।
  2. इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट होते है जो दिल को दुरुस्त बनाते है।
  3. अखरोट का नियमित रूप से सेवन करने से मधुमेह या डायबटीज में आराम मिलता हैं।
  4. गर्भवती महिलाओं के लिए अखरोट का सेवन लाभदायक होता हैं और यह तनाव को कम करता हैं। यह बच्चे में फूड एलर्जी होने की सम्भावना को कम करता हैं और बच्चे को पोषण मिलता हैं।
  5. भुना हुवा अखरोट देसी घी में मिला कर खाने से सर्दी में होने वाली खांसी से आराम मिलता हैं।
  6. अखरोट की छाल का काढ़ा पीने से पेट की कीड़े मर जाते हैं और अखरोट की छाल को चूर कर मंजन करे तो दाँत मजबूत होते हैं।
  7. अखरोट का नियमित रूप से सेवन करने से यादास्त में वृद्धि और कब्ज व गठिया में फायदेमंद होता हैं।
  8. अखरोट वायु, पित्त, टी.बी., ह्रदय रोग, खून की खराबी और दाद को दूर करता हैं।
  9. यह आपके स्तनों को सुडौल और स्वस्थ बनाये रखता हैं। साथ ही यह आपकी त्वचा को झुर्रियों से मुक्त चमकदार बनाये रखता हैं।
  10. अखरोट में मौजूद विटामिन बी7 आपके बालो को मजबूत बनाता हैं, जिससे बालो का गिरना रुक जाता हैं।
  11. अखरोट के नियमित रूप से सेवन करने से ये वीर्य या शुक्राणु में वृद्धि करते हैं, शुक्रणुओं में गुणवत्ता और गतिशीलता आती हैं।

अखरोट के नुकसान : ज्यादा अखरोट का सेवन करने से यह शरीर में गर्मी करता हैं जिससे कफ और पित्त बढ़ने की सम्भावना रहती है, इसलिए ज्यादा अखरोट नही खायें। दिन में 5 या 6 से ज्यादा अखरोट नही खायें।

अनानास के फायदे और गुण ( Pineapple Juice Benefits )

अनानास के फायदे ( Ananas ke fayde aur Gun ) :

अनानास का फल अपने देखा भी है और खाया भी है। लेकिन अनन्नास खाने के फायदे क्या है अनन्नास के गुण क्या है या फिर अनन्नास का ज्यूस पीने के फायदे क्या है। इसके बारे में आपको ज्यादा पता नही है। आज हम अनानास के फायदे और गुणों के बारे में चर्चा करेगे कच्चा अनानास बाहर से हरा दिखाई देता है और पकने के बाद हल्का भूरा या पीले रंग का दिखाई देता है। अनानास के फल का बाहरी हिस्सा कठोर होता है जिस पर कांटे भी होते है और अनानास के ऊपरी सिरे पर पत्तो का गुच्छा भी होता हैं। अनानास के फल में कोई बीज नही होता है। इसे अंग्रेजी में पाइनएपल (PineApple) कहते है। अनानास का रसथोड़ा खट्टा-मीठा और स्वादिस्ट व रसदार होता हैं।

पाइनएप्पल में 86.5 प्रतिशत जल, 12 प्रतिशत शर्करा, 0.1 प्रतिशत वसा, 0.6 प्रतिशत प्रोटीन और कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन, विटामिन ए, विटामिन सी और विटामिन बी12, साइट्रिक अम्ल, मैलिक अम्ल भी पाए जाते हैं।

अनानास के फायदे

अनानास के फायदे और गुण :

  • अनानास में जल की मात्रा 86.5 प्रतिशत होती हैं. जिससे शरीर में पानी की कमी को दूर करता हैं, शरीर को तरावट देता हैं।
  • अनानास का ज्यूस रोज पीने से पथरी या किडनी स्टोन का खतरा काम होता हैं और आँखों की रोशनी भी सही बनी रहती हैं।
  • अनानास पर काली मिर्च और काले नमक का चूर्ण डालकर सेवन करने से बदहजमी और अजीर्ण की समस्या दूर होती हैं।
  • अनानास खाने या इसका ज्यूस पीने से पेट के कीड़े, पित्त विकार, पीलिया, पेट दर्द और बुखार में लाभदायक हैं।
  • अनानास शरीर में खून की कमी को दूर करता हैं, हड्डियों को मजबूती प्रदान करता हैं और शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है और शारीरिक शक्ति में वर्द्धि करता है।
  • अनानास का रस पाचन में लाभदायक होता हैं और वजन कम करने में भी सहायक होता हैं।
  • अनानास का रस सुबह नास्ते में बहुत लाभदायक हैं, इससे त्वचा पर निखार आता हैं। इसमें रोग प्रतिरोधक क्षमता होने से यह कैंसर में भी सहायक हैं।

अनानास के नुकसान ( Pineapple ke nuksan ) :

हमने आपको अनानास के फायदे और लाभ बता दिए हैं। अनानास के नुकसान के बारे में बात करे तो हम जानते ही है की कोई भी चीज हम ज्यादा खाये तो नुकसान तो देती हैं। इसके आलावा गर्भवती महिला शुरुवात के दिनों में अनन्नास नहीं खाये, उपवास के दिन, मधुमेह रोग में और डॉक्टर ने मना किया है तो अनन्नास नहीं खाएं।

हरी मिर्च के फायदे ( Hari Mirch ke fayde )

हरी मिर्च के फायदे ( Hari Mirch ke fayde ) :

हरी मिर्च के फायदे ( Hari Mirch ke fayde ) : Green Chilli Benefits, Hari mirch ke fayde in hindi.

  • गर्मी के दिनों में यदि हम खाने के साथ हरी मिर्च खाए और फिर घर से बाहर जाए तो कभी भी लू नहीं लग सकती ! 
  • खून में हेमोग्लोबिन की कमी होने पर रोजाना खाने के साथ हरी मिर्च खाए कुछ ही दिन में आराम मिल जायेगा
  • मिर्च में अमीनो एसिड, एस्कार्बिक एसिड, फोलिक एसिड, सिट्रीक एसिड, ग्लीसरिक एसिड, मैलिक एसिड जैसे कई तत्व होते है जो हमारे स्वास्थ के साथ – साथ शरीर की त्वचा के लिए भी काफी फायदेमंद होता है।
  • मिर्च के सेवन से भूखं कम लगती है और बार बार खाने की इच्छा नहीं होती जिससे वजन बढ़ने का खतरा कम हो जाता है।
  • लाल मिर्च में भी औषधीय गुण होते है Hari mirch ke fayde किन्तु हरी मिर्च सेहत के लिए अधिक लाभकारी है ।

काली मिर्च के फायदे ( Kali Mirch ke fayde )

काली मिर्च के फायदे ( Kali Mirch ke fayde ) :

काली मिर्च के फायदे ( Kali Mirch ke fayde ) : Black Pepper Benefits, kali mirch ke fayde in hindi.

  • यदि आपका ब्लड प्रेशर लो रहता है, तो दिन में दो-तीन बार पांच दाने कालीमिर्च के साथ 21 दाने किशमिश का सेवन करे।
  • जुकाम होने पर कालीमिर्च के चार-पांच दाने पीसकर एक टी-कप दूध में पकाकर सुबह-शाम लेने से लाभ मिलता है।
  • एक चम्मच शहद में 2-3 बारीक कुटी हुई कालीमिर्च और एक चुटकी हल्दी पावडर मिलाकर लेने से कफ में राहत मिलती है।
  • इससे शरीर की थकावट दूर होती है। कालीमिर्च से गले की खराश दूर होती है।
  • इससे रक्त संचार सुधरता है।यह दिमाग के लिए फायदेमंद होती है। गैस के कारण पेट फूलने पर कालीमिर्च असरदार होती है। इससे गैस दूर होती है। Kali mirch ke fayde कालीमिर्च की चाय पीने से सर्दी-ज़ुकाम, खाँसी और वायरल इंफेक्शन में राहत मिलती है। कालीमिर्च पाचनक्रिया में सहायक होती है।
  • कालीमिर्च सभी प्रकार के संक्रमण में लाभ देती है।

केला के फायदे ( Banana aur Kele ke fayde )

केला के फायदे ( Banana aur Kele ke fayde ) :

केला के फायदे ( Kele ke fayde ) : Banana ke benefits, kele khane ke fayde in hindi.

केला बाजार में बहुत सस्ता मिलता हैं, पर लोग इसको खरीदते काम हैं जबकि केला स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत अच्छा है, एक केले में बहुत ऊर्जा होती हैं, इसमें पानी की मात्रा 64.3 प्रतिशत, प्रोटीन 1.3 प्रतिशत, कार्बोहाईड्रेट 24.7 प्रतिशत तथा चिकनाई 8.3 प्रतिशत होती है। हमें एक केला रोज़ खाना चाहिए यह तन-मन को तंदुरुस्त रखता है। केले में पोटैशियम पाया जाता है, जो ब्लड प्रेशर के मरीज के लिए बहुत लाभदायक हैं, पतले और कमजोर लोगों को वजन बढाने के लिए केले का सेवन करना चाहिए।

  • यदि महिलाओं को रक्त प्रवाह अधिक होता है तो पके केले को दूध में मसल कर कुछ दिनों तक खाने से लाभ होता है।
  • बार-बार पेशाब आने की समस्या हो तो चार तोला केले के रस में दो तोला घी मिलाकर पीने से फायदा होता है।
  • यदि शरीर का कोई हिस्सा जल जाए तो केले के गूदे को मसल कर जले हुए स्थान पर बांधे। इससे जलन दूर होकर आराम पहुंचता है।
  • पेचिश रोग में थोड़े से दही में केला मिलाकर सेवन करने से फायदा होता है।
  • संग्रहणी रोग होने पर पके केले के साथ इमली तथा नमक मिलाकर सेवन करें।
  • दाद होने पर केले के गूदे को नींबू के रस में पीसकर पेस्ट बनाकर लगाएं।
  • पेट में जलन होने पर दही में चीनी और पका केला मिलाकर खाएं। Kele ke fayde इससे पेट संबंधी अन्य रोग भी दूर होते हैं।
  • अल्सर के रोगियों के लिये कच्चे केले का सेवन रामबाण औषधि है।
  • केला खून में वृध्दि करके शरीर की ताकत को बढ़ाने में सहायक है। Kele ke fayde यदि प्रतिदिन केला खाकर दूध पिया जाए तो कुछ ही दिनों में व्यक्ति तंदुरुस्त हो जाता है।
  • यदि चोट लग जाने पर खून का बहना न रुके तो उस जगह पर केले के डंठल का रस लगाने से लाभ होता है।
  • केला छोटे बच्चों के लिये उत्तम व पौष्टिक आहार है। Kele ke fayde इसे मसल कर या दूध में फेंटकर खिलाने से लाभ मिलता है।
  • केले और दूध की खीर खाने या प्रातः सायं दो केले घी के साथ खाने या दो केले भोजन के साथ घंटे बाद खाकर ऊपर से एक कप दूध में दो चम्मच शहद धोलकर लगातार कुछ दिन पीने से प्रदर रोग ठीक हो जाता है।
  • केले का शर्बत बनाकर पीने से सूखी खांसी, पुरानी खांसी और दमे के कारण चलने वाली खांसी में 2-2 चम्मच सुबह-शाम सेवन करने से लाभ होता है।
  • एक पका केला एक चम्मच घी के साथ 4-5 बूंद शहद मिलाकर सुबह-शाम आठ दिन तक रोजाना खाने से प्रदर और धातु रोग में लाभ होता है। (Kele ke fayde).
  • पके केले को घी के साथ खाने से पित्त रोग शीघ्र शान्त होता है।
  • मुंह में छाले हो जाने पर गाय के दूध के दही के साथ केला खाने से लाभ होता है।
  • एक पका केला मीठे दूध के साथ आठ दिन तक तक लगातार खाने से नकसीर में लाभ होता है।
  • दो केले एक तोला शहद में मिलाकर खाने से सीने के दर्द में लाभ होता है।
  • दो पके केले खाकर, एक पाव गर्म दूध एक माह तक सेवन करने से दुबलापन दूर होकर शरीर स्वस्थ बनता है।
  • प्रतिदिन भोजन के बाद एक केला खाने से मांसपेशियां मजबूत बनती है व ताकत देता है। (Kele ke fayde).
  • प्रातः तीन केले खाकर, दूध में शक्कर व इलायची मिलाकर नित्य पीते रहने से रक्त की कमी दूर होती है।
  • यदि बाल गिरते हों तो केले के गूदे में नींबू का रस मिलाकर सिर में लगाने से बाल झड़ना रूक जाता है।
  • जलने या चोट लगने पर केले का छिलका लगाने से लाभ होता है।
  • पके हुए केले को आंवले रस तथा शक्कर मिलाकर खाने बार-बार पेशाब आने की शिकायत होती है।
  • बच्चे को दस्त लग जाने पर पके केले को कटोरी में रख कर चम्मच से घोट कर मक्खन जैसा बना लें और जरा सी मिश्री पीस कर मिला कर बच्चे को दिन में दो तीन बार खिलाएं। लाभ होगा, कमजोरी नहीं आएगी और बच्चे के शरीर में पानी की कमी नहीं हो पाएगी। ध्यान रहे कि केला जितनी बार खिलाना हो, उसे उसी समय बनाएं। ढक कर रखा गया या काट कर रखा केला न खिलाएं। वह हानिकारक हो सकता है। Kele ke fayde मिट्टी खाने के आदी बच्चों को इसका गूदा खूब फेंट कर जरा सा शहद मिला कर आधा आधा चम्मच खिलाना उपयोगी है। पर ध्यान रहे की शाम के बाद केला ना दे।
  • कोई भी चीज मात्रा से अधिक खाना पीना हानिकारक है। Kele ke fayde इसी तरह केला भी ज्यादा खाने से पेट पर भारी पड़ेगा, शरीर शिथिल होगा, आलस्य आएगा। कभी ज्यादा खा लिया जाए तो एक छोटी इलायची चबाना लाभकारी है।
  • कफ प्रकृति वालों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए। Kele ke fayde हमेशा पका केला ही खाएं।
  • केले में मैग्नीशियम की काफी मात्रा होती है जिससे शरीर की धमनियों में खून पतला रहने के कारण खून का बहाव सही रहता है। Kele ke fayde इसके अलावा पूर्ण मात्रा में मैग्नीशियम लेने से कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होती है।
  • कच्चे केले को दूध में मिलाकर लगाने से त्वचा निखर जाती है और चेहरे पर भी चमक आ जाती है।
  • रोज सुबह एक केला और एक गिलास दूध पीने से वजन कंट्रोल में रहता है और बार- बार भूख भी नहीं लगती।
  • गर्भावस्था में महिलाओं के लिए केला बहुत अच्छा होता है क्योंकि यह विटामिन से भरपूर होता है।
  • गले की सुजन में लाभकारी है।
  • जी-मिचलाने पर तो पका केला कटोरी में फेंट कर एक चम्मच मिश्री या चीनी और एक छोटी इलायची पीस कर मिला कर खाने से राहत मिलेगी। (Kele ke fayde).
  • केले के तने के सफेद भाग के रस का नियमित सेवन डायबिटीज की बीमारी को धीरे-धीरे खत्म कर देता है।
  • खाना खाने के बाद केला खाने से भोजन आसानी से पच जाता  है।

तोरई का फायदा ( Turai aur torai ka fayda )

तोरई का फायदा ( Torai Ka Fayda ) :

तोरई का फायदा ( Torai Ka Fayda ) : Turai ke fayde, turai khane ke fayde, Torai ka fayda in hindi.

तोरई एक सब्ज़ी है। इसका वानस्पतिक नाम लूफा सिलिन्ड्रिका है। तोरई एक विशेष महत्त्व वाली सब्ज़ी है। यह रोगी लोगों के लिए अत्यन्त लाभदयक होती है। इसकी खेती सम्पूर्ण भारत में की जाती है। सब्ज़ी के अलावा इसके सूखे हुए रेशे को बर्तन साफ़ करने, जूते के तलवे तथा उद्योगों में फिल्टर के रूप में प्रयोग किया जाता है। तोरई की तरकारी बहुत हल्की मानी जाती है।

  • तोरई छोटी, रूखी, तेज, उष्णवीर्य और उल्टी को दूर करने वाली है।
  • यह कफ-पित्त के रोग को दूर करने वाली, ख़ून को साफ़ करने वाली, निःसारक, सूजन और पेट की गैस को दूर करने वाली है।
  • पेट की गाँठें, रस और फल में कड़ुवा, ख़ून की बीमारी, तिल्ली के बढ़ने में, खाँसी, सांस सफ़ेद दाग़ (कुष्ठ), पीलिया, बवासीर और टी.बी. को दूर करती है।
  • तोरई का छिलका : तोरई का ताजा छिलका त्वचा पर रगड़ने से त्वचा साफ होती है।
Ayurvedic Solution © 2016 Frontier Theme
Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.