Category: विवाह के उपाय

लड़की की शादी के उपाय ( Ladki Ki Shadi Ke Upay )

लड़की की शादी के उपाय (Ladki Ki Shadi Ke Upay in Hindi) :

यहाँ पर हम कुछ बहुत ही आसान Ladki Ki Shadi Ke Upay, Ladki Ki Shadi Ke Jyotish Upay और Jyotish ke anusar Ladki Ki Shadi Ke Upay किन्तु अचूक उपाय बता रहे है जिनको सच्चे मन से करने से वर एवं कन्या दोनों को ही निश्चित रूप से मनवांछित लाभ प्राप्त होगा।

  • शीघ्र विवाह के लिए सोमवार को १२०० ग्राम चने की दाल व सवा लीटर कच्चे दूध का दान करें| यह प्रयोग तब तक करते रहना है जब तक कि विवाह न हो जाय।
  • कन्या जब किसी कन्या के विवाह में जाये और यदि वहाँ पर दुल्हन को मेहँदी लग रही हो तो अविवाहित कन्या कुछ मेहँदी उस दुल्हन के हाथ से लगवा ले इससे विवाह का मार्ग शीघ्र प्रशस्त होता है।
  • विवाह वार्ता के लिए घर आए अतिथियों को इस प्रकार बैठाएं कि उनका मुख घर में अंदर की ओर हो, उन्हें द्वार दिखाई न दे।
  • विवाह योग्य युवक-युवती जिस पलंग पर सोते हों उसके नीचे लोहे की वस्तुएं या कबाड़ का सामान कभी भी नहीं रखना चाहिए।
  • यदि विवाह के पूर्व लड़का-लड़की मिलना चाहें तो वह इस प्रकार बैठे कि उनका मुख दक्षिण दिशा की ओर न हो।
  • कन्या सफेद खरगोश को पाले तथा अपने हाथ से उसे भोजन के रूप में कुछ दे। Ladki Ki Shadi Ke Upay.
  • कन्या के विवाह की चर्चा करने उसके घर के लोग जब भी किसी के यहाँ जायें तो कन्या खुले बालों से,लाल वस्त्र धारण कर हँसते हुए उन्हें कोई मिष्ठान खिला कर विदा करे| विवाह की चर्चा सफल होगी।
  • पूर्णिमा को वट वृक्ष की १०८ परिक्रमा देने से भी विवाह बाधा दूर होती है।
  • गुरूवार को वट वृक्ष, पीपल, केले के वृक्ष पर जल अर्पित करने से विवाह बाधा दूर होती है।

Ladki Ki Shadi Ke Upay

शादी के उपाय (Ladki Ki Shadi Ke Jyotish Upay) :

शुक्ल पक्ष के पहले गुरुवार को सात केले, सात गौ ग्राम गुड़ और एक नारियल लेकर किसी नदी या सरोवर पर जाएं। अब कन्या को वस्त्र सहित नदी के जल में स्नान कराकर उसके ऊपर से जटा वाला नारियल ऊसारकर नदी में प्रवाहित कर दें। इसके बाद थोड़ा गुड़ व एक केला चंद्रदेव के नाम पर व इतनी ही सामग्री सूर्यदेव के नाम पर नदी के किनारे रखकर उन्हें प्रणाम कर लें। थोड़े से गुड़ को प्रसाद के रूप में कन्या स्वयं खाएं और शेष सामग्री को गाय को खिला दें। इस उपाय से कन्या का विवाह शीघ्र ही हो Ladki Ki Shadi Ke Upay जाएगा।

प्रेम विवाह में सफलता के उपाय ( Love Marriage Ke Upay) :

क्या आप किसी से प्यार करते हो? उससे के साथ आप प्रेम विवाह (Love Marriage) करना चाहते हो पर किसी परेशानी के कारन शादी करने मैं समस्या आ रही है तो कीजिये एक छोटा सा उपाय –

  • भगवान विष्णु और लक्ष्मी की मूर्ति या तस्वीर के सम्मुख,शुक्ल पक्ष में गुरूवार से शुरू करें. लक्ष्मीनारायण नम: मंत्र का रोज तीन माला जाप, स्फटिक माला या लक्ष्मी वरवरद माला से करें. तीन महीने तक हर गुरूवार मंदिर में प्रसाद चढ़ाएं और विवाह हो जाने की प्रार्थना करें. मनोवंछित फल प्राप्त होगा।

विवाह जल्दी होने के उपाय (Vivah Jaldi Hone Ka Upay) Shadi ke Upay

Vivah Jaldi Hone Ka Upay or Shadi ke Upay in Hindi :

विवाह जल्दी होने का उपाय (Vivah Jaldi Hone Ka Upay or Shadi ke Upay) :

  • यदि कन्या की शादी में कोई रूकावट आ रही हो तो पूजा वाले 5 नारियल लें ! भगवान शिव की मूर्ती या फोटो के आगे रख कर “ऊं श्रीं वर प्रदाय श्री नामः” मंत्र का पांच माला जाप करें फिर वो पांचों नारियल शिव जी के मंदिर में चढा दें ! विवाह की बाधायें अपने आप दूर होती जांयगी।
  • प्रत्येक सोमवार को कन्या सुबह नहा-धोकर शिवलिंग पर “ऊं सोमेश्वराय नमः” का जाप करते हुए दूध मिले जल को चढाये और वहीं मंदिर में बैठ कर रूद्राक्ष की माला से इसी मंत्र का एक माला जप करे ! विवाह की सम्भावना शीघ्र बनती नज़र आयेगी।

शीघ्र विवाह के सरल एवं आसान उपाय ( Vivah Jaldi Hone ka Upay or saral upay) : 

इन उपाय को करने से शीघ्र विवाह (Shadi ke Upay) तथा विवाह मार्ग की समस्त बाधाएं दूर होती है| बहुत ही आसान किन्तु अचूक उपाय बता रहे है जिनको सच्चे मन से करने से वर एवं कन्या दोनों को ही निश्चित रूप से मनवांछित लाभ प्राप्त होगा।

  1. शीघ्र विवाह के लिए सोमवार को १२०० ग्राम चने की दाल व सवा लीटर कच्चे दूध का दान करें| यह प्रयोग तब तक करते रहना है जब तक कि विवाह न हो जाय|
  2. कन्या जब किसी कन्या के विवाह में जाये और यदि वहाँ पर दुल्हन को मेहँदी लग रही हो तो अविवाहित कन्या कुछ मेहँदी उस दुल्हन के हाथ से लगवा ले इससे विवाह का मार्ग शीघ्र प्रशस्त होता है|
  3. विवाह वार्ता के लिए घर आए अतिथियों को इस प्रकार बैठाएं कि उनका मुख घर में अंदर की ओर हो, उन्हें द्वार दिखाई न दे।
  4. विवाह योग्य युवक-युवती जिस पलंग पर सोते हों उसके नीचे लोहे की वस्तुएं या कबाड़ का सामान कभी भी नहीं रखना चाहिए।
  5. यदि विवाह के पूर्व लड़का-लड़की मिलना चाहें तो वह इस प्रकार बैठे कि उनका मुख दक्षिण दिशा की ओर न हो।
  6. कन्या सफेद खरगोश को पाले तथा अपने हाथ से उसे भोजन के रूप में कुछ दे।
  7. कन्या के विवाह की चर्चा करने उसके घर के लोग जब भी किसी के यहाँ जायें तो कन्या खुले बालों से,लाल वस्त्र धारण कर हँसते हुए उन्हें कोई मिष्ठान खिला कर विदा करे| विवाह की चर्चा सफल होगी।
  8. पूर्णिमा को वट वृक्ष की १०८ परिक्रमा देने से भी विवाह बाधा दूर होती है।
  9. गुरूवार को वट वृक्ष, पीपल, केले के वृक्ष पर जल अर्पित करने से विवाह बाधा दूर होती है।

मन्त्र ( Vivah Jaldi Hone Ka upay Mantra) –

गौरी आवे ,शिव जो ब्यावे.अमुक का विवाह तुरंत सिद्ध करेँ,
देर ना करेँ, जो देर होए , तो शिव को त्रिशूल पड़े,
गुरु गोरखनाथ की दुहाई फिरै ।।

अमुक के स्थान पर जिस लड़की का विवाह न हो रहा हो उसका नाम लिख सकते है।

प्रेम में सफलता के उपाय (Shadi ke Upay or prem Vivah Jaldi Hone Ka Upay) :

  1. ईश्वर से सच्चे मन से अपने प्रेम के लिए प्रार्थना करनी चाहिए।
  2. भगवान विष्णु और लक्ष्मी की मूर्ति या फोटो के सम्मुख शुक्ल पक्ष में गुरुवार से
    ” ऊँ लक्ष्मी नारायणाय नमः।”मन्त्र की 3 माला प्रतिदिन स्फटिक की माला से जप करें और 3 महीनों तक हर गुरुवार को मंदिर में प्रसाद चढ़ायें।
  3. कृष्ण मंदिर में बांसुरी और पान अर्पण से प्रेम की प्राप्ति होती है।
  4. यदि आप किसी को अपना बनाना चाहते हैं तो माँ दुर्गा की की पूजा करे माता को लाल रंग की ध्वजा चढ़ाएं व प्रेम में सफलता की मनोकामना मांगें।
  5. शहद से रुद्राभिषेक करने से मनचाहा प्रेम मिलता है।
  6. सोलह सोमवार के ब्रत से योग्य, सुन्दर, सुशील और प्रेम करने वाला जीवन साथी मिलता है।
  7. प्रेम-विवाह में सफलता के लिए शुक्ल पक्ष में प्राण प्रतिष्ठत असली नेपाली गौरी-शंकर रुद्राक्ष, वाइट गोल्ड में धारण करें |
  8. ओपल या हीरा रत्न धारण कर से प्रेम-संबंधों को विवाह (Shadi ke Upay) तक पहुंचाने में सहायता मिलती है।
  9. यदि प्रेमी/प्रेमिका में से कोई एक मांगलिक हैं और प्रेम-विवाह में बाधा आ रही है तो तो विवाह की लिए पुन: विचार करें नहीं तो मंगल दोष का तत्काल निवारण अवश्य ही कर लें, अन्यथा जीवन भर पछताना पड़ सकता है।
  10. सप्तमेश या सप्तम भाव में विराजमान ग्रह की शांति अवश्य करा लें।
  11. एक-दूसरे को नुकीली या काले रंग की कोई वस्तु कभी भी न दें | इससे संबंध खराब होने की संभावना होती है।
  12. गिफ्ट में कभी भी काले रंग की कोई वस्तु एक-दूसरे को न दें। इससे आपस में दूरियां हो सकती है।
  13. अपने प्रियतम/प्रेयसी को हीरा भेंट करना बहुत ही शुभ होता है, हीरे के स्थान पर अमरीकन डायमण्ड भी उपहार में दे सकते है लेकिन याद रहे वह काला या नीला न हो।
  14. लाल,गुलाबी,पीले और सुनहरे पीले रंग की वस्तुओं को उपहार में देना अत्यंत श्रेष्ठ माना गया है।
  15. कन्या अधिकतर अपने हाथों में हरी चूडिय़ां तथा प्रत्येक गुरुवार को पीले और शुक्रवार को सफेद वस्त्र पहनें।
  16. लड़के को प्रेम में सफलता के लिए पन्ना (एमरल्ड) की अंगूठी धारण करना चाहिए इससे प्रेयसी के मन में प्रबल आकर्षण बना रहता है ।
  17. प्रेमी युगल को शनिवार और अमावस्या के दिन नहीं मिलना चाहिए। इन दिनों में मिलने से आपस में किसी भी बात पर विवाद हो सकता है …एक दूसरे की कोई भी बात बुरी लग सकती है तथा प्रेम संबंधो में सफलता (Shadi ke Upay) मिलने में संदेह हो सकता है।
  18. प्रेमी युगल को यह प्रयास करना चाहिए कि शुक्रवार और पूर्णिमा के दिन अवश्य मिलें। जिस शुक्रवार को पूर्णिमा हो वह दिन अत्यंत शुभ रहता है इस दिन मिलने से परस्पर प्रेम व आकर्षण बढ़ता है।

Vivah Jaldi Hone Ka Upay or Shadi ke Upay

विवाह के अचूक उपाय (Vivah Jaldi Hone Ka Upay or Totke):

कुछ कारणों के चलते उचित समय पर उसका विवाह नहीं हो पाता। यदि आपके साथ भी यही समस्या है तो नीचे लिखे टोटके से इस समस्या का निदान संभव है !

कुम्हार अपने चाक को जिस डंडे से घुमाता है, उसे किसी तरह किसी को बिना बताए प्राप्त कर लें। इसके बाद घर के किसी कोने को रंग-रोगन कर साफ कर लें। इस स्थान पर उस डंडे को लंहगा-चुनरी व सुहाग का अन्य सामग्री से सजाकर दुल्हन का स्वरूप देकर एक कोने में खड़ करके गुड़ और चावलों से इसकी पूजा करें।इस टोटके से लड़के का विवाह शीघ्र ही हो जाता है। यदि चालीस दिनों में इच्छा पूरी न हो तो फिर यही प्रक्रिया दोहराएं(डंडा प्राप्त करने से लेकर पूजा तक)। यह प्रक्रिया सात बार कर सकते हैं।

जल्दी विवाह होने का उपाय (Vivah Jaldi Hone Ka Upay or Totke) :

यह उपाय उन व्यक्तियों को करना चाहिए. जिन व्यक्तियों की विवाह की आयु (Shadi ke Upay) हो चुकी है. परन्तु विवाह (Shadi ke Upay) संपन्न होने में बाधा आ रही है.

  • शुक्रवार की रात्रि में आठ छुआरे जल में उबाल कर जल के साथ ही अपने सोने वाले स्थान पर सिरहाने रख कर सोयें तथा शनिवार को प्रात: स्नान करने के बाद किसी भी बहते जल में इन्हें प्रवाहित कर दें.

कन्या के विवाह में विलम्ब के उपाय ( Ladki ka Vivah Jaldi Hone Ka Upay) :

ग्रहों के अशुभ प्रभाव के कारण कन्या के विवाह में विलंब हो तो इस प्रकार के उपाय स्वयं कन्या द्वारा करवाने से विवाह बाधाएं दूर होती है.

  • किसी भी माह की शुक्ल पक्ष की चतुर्थी से चांदी की छोटी कटोरी में गाय का दूध लेकर उसमें शक्कर एवं उबले हुए चांवल मिलाकर चंद्रोदय के समय चंद्रमा को तुलसी की पत्ती डालकर यह नेवैद्य बताएं व प्रदक्षिणा करें, इस प्रकार यह नियम 45 दिनों तक करें ,45 दिन पूर्ण होने पर एक कन्या को भोजन करवाकर वस्त्र और मेंहदी दान करें, ऐसाकरने से सुयोग्य वर की प्राप्ति होकर शीघ्र मांगलिक कार्य संपन्न होता है ।
  • गुरूवार के दिन प्रातरूकाल नित्यकर्म से निवतृत होकर हल्दीयुक्त रोटियां बनाकर प्रत्येक रोटी पर गुड़ रखें व उसे गाय को खिलाएं ।7 गुरूवार नियमित रूप से यह विधि करने से शीघ्र विवाह (Shadi ke Upay) होता है ।
  • मंगलवार के दिन देवी -मंदिर में लाल गुलाब का फूल चढ़ाएं पूजन करें एवं मंगलवार का व्रत रखें ।यह कार्य नौ मंगलवार तक करे । अंतिम मंगलवार को 9 बर्ष की नौ कन्याओं को भोजन करवाकर लाल वस्त्र, मेंहदी एवं यथाशक्ति दक्षिण दें,शीघ्र फल की प्राप्ति होगी ।
  • कात्यायनि महामाये महायोगिन्यधीश्वरि नंद गोपसुतं देविपतिं में कुरू ने नम: । माँ कात्यायनि देवी या पार्वती देवी के फोटो को सामने रखकर जो कन्या पूजन कर इस कात्यायनि मंत्र की 1 माला का जाप प्रतिदिन करती है , उस कन्या की विवाह बाधा शीघ्र दूर होती है।

राशि अनुसार विवाह के मंत्र (Rashi ke anusar Vivah Jaldi Hone Ka Upay or mantra) :

  • 2. वृषभ :

मंगल मंत्र ‘ॐ क्रां क्रीं क्रौं स: भौमाय नम:’ का जप तथा हनुमान चालीसा तथा मंगल चंडिका का पाठ करें।
मंगलवार का व्रत करें।

  • 3. मिथुन :

बृहस्पति के मंत्र ‘ॐ ज्रां ज्रीं ज्रौं स: बृहस्पतये नम:’ का जप तथा केसर का तिलक लगाएं।
गुरुवार का व्रत करें।

  • 4. कर्क :

शनैश्चर देवता के मंत्र करें व तेल का दान दें। पीपल की परिक्रमा नित्य कर दीपदान करें। मंत्र- ॐ प्रां प्री प्रौं स: शनैश्चराय नम:।
शनिवार का व्रत क

  • 5. सिंह :

शनि देवता का मंत्र ‘ॐ प्रां प्रीं प्रौं स: शनैश्चराय नम:’ जपें तथा तेल का दान कर हनुमान मंदिर में शनिवार को दीपक संध्या समय लगाएं। सूर्य को अर्घ्य दें। रविवार का व्रत करें।

  • 6. कन्या :

बृहस्पति के मंत्र जपें तथा स्नान के जल में 1-2 चुटकी हल्दी-चंदन मिलाकर स्नान करें। सूर्य को अर्घ्य दें। मंत्र ‘ॐ ज्रां ज्रीं ज्रौं स: बृहस्पतये नम:’ जपें।

  • 7. तुला :

मंगल स्तोत्र का पाठ करें तथा मंगलवार का व्रत करें। मंत्र ‘ॐ क्रां क्रीं क्रौं स: भौमाय नम:’ जपें।

  • 8. वृश्चिक :

शुक्रवार व्रत रखें तथा शुक्र मंत्र ‘ॐ द्रां द्रीं द्रौं स: शुक्राय नम:’ जपें। दुग्ध मिश्रित जल से स्नान करें।

  • 9. धनु :

बुध का उपवास रखें। ‘ॐ गं गणपतये नम:’ तथा ‘ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं स: बुधाय नम:’ का जप करें।

  • 10. मकर :

सूर्य को अर्घ्य दें तथा चंद्र को अर्घ्य दूध मिलाकर दें। सोमवार का व्रत करें। रुद्राभिषेक दूध से करवाएं तथा चंद्र का मंत्र जपें- ‘ॐ श्रां श्रीं श्रों स: चन्द्रमसे नम:।।’

  • 11. कुम्भ :

सूर्य मंत्र- ‘ॐ ह्रां ह्रीं हौं स: सूर्याय नम:’ का जप करें। सूर्य को लाल फूल तथा कुमकुम मिलाकर प्रात: अर्घ्य दें। रविवार का व्रत करें।

  • 12. मीन :

गणपति मंत्र ‘ॐ गं गणपतये नम:’ तथा ‘ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं स: बुधाय नम:’ का जप करें। बुधवार का व्रत करें।

Ayurvedic Solution © 2016 Frontier Theme
Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.